Bigg Boss Season 17 Episode 92 Highlights: पहली बार घर के अंदर पहुंची छोटी सी बच्ची, आयशा मुनव्वर और मन्नारा के भाई-बहनों ने किया धमाल

14 जनवरी को बिग बॉस 17 का एपिसोड बहुत रोमांचक था। इसके बावजूद, वे घर पर एक पारिवारिक वीक का आनंद ले रहे थे। दर्शकों के घरवाले उनसे मिलने आए और घर में उनके साथ रहे। इस दौरान बहुत से मुद्दे हल हो गए और कई राज खुल गए। लेकिन रविवार को करण जौहर ने सलमान खान की जगह घरवालों को पढ़ाया। इस बार उन्होंने विक्की जैन और ईशा मालवीय को गाली दी। निर्माताओं ने एक पूर्वावलोकन भी जारी किया, जिसमें करण जौहर ने विक्की को अंकिता के लिए उनकी मां की बातें बताईं और कहा कि उन्होंने पत्नी अंकिता के लिए कोई कदम नहीं उठाया। करण ने ईशा मालवीय को भी डबल स्टैंडर्ड बताया और उसे फटकार लगाई।

Bigg Boss 17 के रविवार के एपिसोड में सुनील शेट्टी, भारती सिंह और हर्ष लिंबाचिया भी होंगे, जिसमें वे सभी खूब मस्ती करेंगे। यहाँ अपडेट देखें, जो घटित हुआ:

करण ने मन्नारा, मुनव्वर, अंकिता और अभिषेक को दी झप्पी

एपिसोड शुरू होते ही करण जौहर घर आए। उनका गले मिलकर अंकिता लोखंडे, विक्की जैन, अभिषेक, मन्नारा और मुनव्वर ने उनकी प्रशंसा की। उन्हें साहस दिया और उनके खेल की प्रशंसा की। उन्होंने बाद में सलमान के कार्यक्रम में नहीं आने के कारण बताया।

करण ने कहा कि सलमान खान अपने परिवार के साथ व्यस्त थे, इसलिए शो में नहीं आए। करण जौहर फिर घरवालों को चित्र दिखाकर पूछते हैं कि वे क्या समझ रहे हैं। ईशा ने मुनव्वर को लेकर कुछ कहा, फिर विक्की-अभिषेक को बताया, अंकिता बताती हैं।

ईशा को निशाने पर लेने के बाद, करण जौहर उन्हें घर में एक बुद्धिमान खिलाड़ी बताते हैं। उन्होंने बताया कि उनके चेहरे पर एक नकाब लगा हुआ था। फिर करण घर के सभी लोगों को ताना मारता है। वह घर के प्रत्येक सदस्य की हरकतों को लेकर उन्हें बताता है।

करण जौहर ने ईशा को लगाई लताड़

करण जौहर बताते हैं कि पिछले बारह हफ्तों से मुनव्वर, अंकिता, अभिषेक और मन्नारा ने ईशा, विक्की और समर्थ के साथ मिलकर मुनव्वर, अंकिता, अभिषेक और मन्नारा की जिंदगी को बदनाम किया है।

वह पहले ईशा पर ध्यान देते हैं और बताते हैं कि उसने सबका दिल जीत लिया है क्योंकि उसने मुनव्वर के बारे में सब कुछ जानना चाहा था। करण जौहर को मुनव्वर से क्या संबंध है? वह मुनव्वर के साथ खेलने का क्या उद्देश्य था? वह खुशी से बताया कि मुनव्वर बाहर से किसी को भेजा है। करण की बात सुनकर विक्की लोट-पोटकर हंस पड़े। ईशा ने फिर माफी मांगी।

करण ने फिर पूछा: क्या आप अपना अतीत भूल गए? आप अपने रिकॉर्ड भूल गए हैं? करण ने फिर ईशा को बताया कि मुनव्वर ने सब कुछ स्वीकार किया और अपनी गलती मानी, लेकिन ईशा ने कभी समर्थ नहीं लेकर सच स्वीकार किया। बल्कि समर्थ को एक अलग कमरे में स्थानांतरित कर दिया गया। वह कमरे में अपने पूर्व प्रेमी अभिषेक के साथ था।

करण जौहर ने ईशा को धो दिया

करण ने एक बार फिर ईशा से पूछा कि उनका अभिषेक से ब्रेकअप कब हुआ था और समर्थ से उनका रिश्ता कब शुरू हुआ था। करण ने एक बार फिर पूछा कि क्या ईशा ने अभिषेक के न्यू ईयर काउंटडाउन में भाग लिया था? ईशा बताती हैं कि काउंटडाउन के दौरान अभिषेक ने उन्हें थप्पड़ मारा था। करण एक बार फिर ईशा से पूछते हैं कि अब उनकी भावना क्या है।

ईशा बताती है कि वे खुश नहीं हैं। वह इस पूरे बहस को सुनना नहीं चाहती। फिर करण पूछते हैं कि ईशा अपने निजी जीवन पर क्यों बात करती है जब वह नहीं चाहती? आयशा ने बताया कि वे रो रही थीं और किसी का सहारा चाहिए था। आयशा इसे नहीं मानती है। करण कहते हैं कि मुनव्वर अपने जीवन में खुद को जानती है।

ईशा को फटकारने के बाद करण जौहर ने विक्की जैन को निशाना बनाया। करण का कहना है कि मन्नारा को उनकी स्ट्रैटिजी ने चुना था। वे एक्स्पेलेशन देने में माहिर हैं। करण कहते हैं कि विक्की अपने दोस्तों के लिए खड़े हैं। लेकिन पति होने के नाते, उन्हें National TV पर अंकिता से सवाल पूछने पर उनके पीछे खड़े रहना चाहिए।

करण ने कहा कि वे शादीशुदा नहीं हैं, लेकिन वे रिश्तों को समझते हैं। करण और विक्की को बताते हैं कि अंकिता ने कैमरे पर बार-बार सॉरी बोलते हुए कभी नहीं पूछा कि थेरेपी कमरे में उनके और उनकी मां के बीच क्या हुआ। करण कुछ और उठाकर ब्रेक लेते हैं।

विक्की ने अंकिता को किया कन्फ्रंट

विक्की जैन अंकिता को एक कोने में ले जाते हैं और उनसे पूछते हैं कि थेरेपी कमरे में क्या हुआ था। मां ने बताया कि परीक्षा पूरी घटना बता देगी। विक्की का कहना है कि प्रत्येक व्यक्ति की दृष्टि अलग है। लेकिन अब वे अंकिता और उनके परिवार को विक्की से पीड़ित मानते हैं।

विक्की फिर अंकिता से पूछते हैं कि क्या उन्होंने या उनके परिवार ने उनकी जिंदगी में बाधा डाली है या उन्हें कुछ करने से रोका है। उनका दावा था कि ऐसा कभी नहीं हुआ था। बल्कि विक्की और ससुरालवालों ने उन्हें हमेशा सपोर्ट किया और प्यार से रखा है। विक्की बताते हैं कि उनके घरवालों ने कभी उन्हें नहीं रोका।

अंकिता को बताती है कि अगर वह बिलासपुर जाना चाहती है तो जाती है, अगर नहीं चाहती तो नहीं जाती है। लंबे समय तक, विक्की और अंकिता एक ही बात पर बहस करते रहे। विक्की, अंकिता को बताओ कि आप मेरे घर बिलासपुर सिर्फ दस बार साल में आते हैं। आप मुंबई में रहते हैं और अपनी जिंदगी में व्यस्त रहते हैं।

Also Read:

Leave a Comment