Bigg Boss Season 17 Episode 79 Highlights: घरवालों की वोटिंग से एलिमिनेट हुए अनुराग डोभाल, मुनव्वर को ईशा नहीं मानती अपना कॉम्पटीशन

पिछले एपिसोड में बिग बॉस 17 के दो एविक्शन हुए। रिंकू धवन और नील भट्ट को वोटों की कमी के कारण बाहर कर दिया गया। आज के एपिसोड में कई बहस और ट्विस्ट्स एंड टर्न्स देखे गए। बीमार होने के बाद आयशा खान घर लौट आईं। ईशा, ऑरा और मुनव्वर फारूकी ने वहीं एक व्यक्ति को बेघर कर दिया। इसके अलावा, कुछ संघर्ष भी हुए, जिससे घर गर्म हो गया।

एपिसोड की शुरुआत में मन्नारा और अनुराग आयशा और मुनव्वर के रिश्ते पर चर्चा करते हैं, जो फिर से वही सेम होंगे। उधर, मुनव्वर ने अभिषेक को बताया कि मन्नारा से ठीक भी कर ले, लेकिन अब उधर से ऐसा उत्तर नहीं मिलेगा। फिर अनुराग और अभिषेक ने कहा कि एविक्शन में कौन जाएगा।

अनुराग कहते हैं कि उनके जाने से गेम बदल जाएगा। Abhishek ने कहा कि बाहर से लोगों ने कहा कि आप कुछ नहीं कर रहे हैं, इसलिए कोई बदलाव नहीं होगा। आपके पत्ते नहीं खुले हैं। अनुराग ने कहा कि यह मजाक था। अभिषेक ने इसलिए कहा कि ऐसा नहीं है। वह सचमुच बोलते हैं। अनुराग ने फिर से अपनी जीत बताई। मुनव्वर इससे घबरा गया और वहां से चला गया।

अनुराग ने कहा कि आप लड़कियों का इस्तेमाल करते हैं। आप सुरक्षित नहीं हैं। तब अनुराग खड़े-खड़े कंबल ओढ़कर सो जाता है। कहा जाता है कि सोने दो। मेरी जनता सुरक्षित रहेगी। इसके बाद मुनव्वर और अनुराग की बहस बढ़ जाती है। मुनव्वर ने कहा कि वह अंकिता पर अंधा भरोसा कर सकते हैं। यही कारण है कि मन्नारा मुंह बन जाता है।

घर में हुई आयशा खान की एंट्री

जब आयशा घर आई, तो सभी खुश हो गए। आयशा भी मुनव्वर से नाराज़ दिखाई दी। Abhishek को पता चला कि मुनव्वर झूठ बोलते हैं। सलमान खान से पहले विवाह का मुद्दा उठाया। फिर अनुराग ने कहा कि आयशा के जाने पर मुनव्वर हंस रहा था। अंकिता ने ऐसा नहीं कहा। मुनव्वर और अनुराग में झगड़ा हुआ जब अंकिता ने मुनव्वर को बताया।

आयशा ने मन्नारा से कहा कि वह किसी को नहीं सुनेगी। बस अपने अनुभवों पर भरोसा करें। फिर अंकिता ने अनुराग से आग जलाना बंद करने की विनती की। आयशा ने कहा कि वह नहीं सुनेगी। अपना मैटर खुद हल करें। फिर विक्की और अंकिता में झगड़ा होता है। उन्हें दूसरों के साथ बैठने नहीं देतीं और उन्हें सोने के लिए अंदर ले आती हैं।

बिग बॉस ने चौक पर सब लोगों को एकत्र करने का आदेश दिया। फिर मन्नारा ने समर्थ को पूरे घर में बताया। फिर नामांकन बताते हैं। आप कहते हैं कि हर व्यक्ति को इसका अधिकार नहीं है। एकमात्र कप्तान हैं। ईशा मालवीय, ऑरा और मुनव्वर तीनों नामांकन करेंगे। प्रत्येक करके से नाम पूछा जाता है। इसलिए मुनव्वर ने पहले अरुण कहा, फिर अनुराग। उनका कहना था कि वह अहंकारी हैं।

नहीं करते हैं। सोते रहते हैं और काफी स्वतंत्र रहते हैं। और ये लोग उन्हें नहीं मानते। बेटे भी युद्ध में है। अनुराग ने कहा कि तनाव नहीं लेना चाहिए था। अंत तक मैं यही रहूँगा। ईशा ने आयशा का नाम बदला। उन्होंने कहा कि वह बाकियों की तुलना में कम डिजर्विंग दिखती है। बाद में ऑरा ने अभिषेक का नाम लिया। इसलिए ये तीनों प्रत्याशी हैं।

अनुराग ने अकड़ में कहा कि जानकारी वीकेंड पर दी जाएगी। मुनव्वर ने फिर कहा कि मैं हर आने वाले कौआ को उसी पर बांधकर निकाल दूंगा। इसके बाद ईशा और समर्थ बहस करते हैं कि उसने अभिषेक का नाम क्यों नहीं दिया। वहीं, मन्नारा ने अभिषेक को चिढ़ाया क्योंकि उसने ऑरा को कैप्टन बनाया था।

मुनव्वर ने कहा कि उस समय वह दोस्त नहीं थीं। उधर, अनुराग ने कहा कि वह और अभिषेक बॉटम में हैं। आयशा बच गए हैं। बिग बॉस सभी लोगों की बोली और क्रियाओं को देखता है। अनुराग को आयशा ने बताया कि उनका खेल बेकार था। आप केवल प्रशंसकों से हैं।

नॉमिनेशन से बौखलाए बाबू भैया

इन सबके बीच इतना प्यार और क्रोध है। नॉमिनेट होने से बाबू भैया बहुत खुश हैं। वह व्यक्तिगत टिप्पणी करने लगते हैं। उनके संबंधों और शोषण के बारे में बोलने लगते हैं। यहाँ तक कि मुनव्वर उनका हेलमेट भी नहीं खरीद सकते। इसके बाद मुनव्वर बताते हैं कि अनुराग का वजन उनके हेलमेट से अधिक है। फिर अनुराग कहते हैं कि मुनव्वर अब एक और प्रेमिका पाएगा। तब समर्थ जुरैल ने अनुरग की हेकड़ी निकाली।

तुम अनडिजर्विंग करमजल्ला हो, बाबू भैया, कहा। आप कुछ भी कमाने के योग्य नहीं हैं। आपको कुछ करने की क्षमता नहीं है। अगले सीजन में अधिक प्रशंसकों को लाना। यहां बस सोना है। मैं तुम्हें बिना स्टैंड की बाइक पर भेजूंगा। इसके बाद समर्थ ईशा को बताते हैं कि वह अभिषेक से बनाने की कोशिश नहीं की। वहीं, आयशा अनुराग से कहती है कि कल सब कुछ पूछने आए, लेकिन आज किसी ने मुझे समय नहीं दिया। सब व्यक्तिगत है। मैं भी फैन बेस हूँ। देखो उड़ान।

अनुराग का हुआ एविक्शन

मोहल्ले की चौक पर बिग बॉस सभी लोगों को एकत्र करता है। यह कहते हैं कि अगर कप्तान कहते हैं कि आप तीनों मोहल्ले की भीड़ हैं, तो इसे कम करो भाई। आज ही कोई बेघर हो जाएगा, वह कौन होगा? ये बचे हुए घरवाले एक-एक करके बताएंगे। तीनों उम्मीदवारों को एक्टिविटी रूम में बुलाया जाता है।

वहीं, कहते हैं कि सभी बाहर घमंड के घड़े को फोड़ने का समय आ गया है। इसके बाद बिग बॉस तीनों को बताते हैं कि सबसे अधिक विचलित व्यक्ति यहीं से बाहर हो जाएगा। घर नहीं आएगा। फिर प्रत्येक घरवाला अपने नाम बताता है। मन्नारा पहले जाती है। अभिषेक उसका नाम है। अनुराग अरुण का नाम था।

अनुराग का नाम भी अंकिता लेती है और उन्हें अनडिजर्विंग बताती है। उनका घमंड है। अनुराग भी समर्थ का नाम है। विक्की भैया भी अनुराग कहलाता था। बाद में बिग बॉस ने अनुराग को बताया कि घरवालों ने कहा कि वह यहाँ खड़े रहना कम पसंद करता है। अब आप शहर से बाहर हैं। मन्नारा को संदेश देकर अनुराग वहां से चले जाते हैं।

ईशा ने बताया कि वे मुनव्वर को अपना कॉम्पटीशन नहीं मानते। उनमें बिग बॉस प्रतिस्पर्धी की तरह कोई गुण नहीं है। आज तक उन्होंने कुछ भी नहीं कहा। आयशा ने कहा कि ईशा किसी भी व्यक्ति की सगी नहीं है। वह समर्थ भी नहीं लगती। अंक भी लपेटते हैं। ऑरा ने आयशा के मुंह पर चादर डाल दी, जिससे वह भड़क गई। जब अभिषेक ने काम करने से मना कर दिया, तो ऑरा गुस्से में आ जाते हैं, इसके बाद ये मामला समाप्त हो जाता है।

Also Read:

Leave a Comment